कंपनी ने आईपीओ के लिए शेयरों का प्राइस बैंड तय कर दिया है. यह 340-357 रुपये प्रति शेयर रखा गया है. जानकारी के मुताबिक, इसका लॉट साइज 42 शेयरों का रहेगा.
कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है

benefits-of-being-a-share-holder-in-hindi

Sula Vineyards IPO: सबसे ज्यादा शराब बनाती और बेचती है ये कंपनी, अब लेकर आ रही है IPO

शराब बनाने वाली कंपनी अब शेयर बाजार (Share Market) में निवेश करने वालों को कमाई का मौका देने जा रही है. वाइन मैन्यूफैक्चरिंग फर्म सुला वाइनयार्ड्स अगले सप्ताह अपना आईपीओ (Sula Vineyards IPO) पेश करने के लिए तैयार है. इस इश्यू का साइज 960.35 करोड़ होगा. अगले हफ्ते खुलने जा रहा यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल होगा.

लॉन्च से पहले घटाया इश्यू साइज

वाइन बनाने वाली (Wine Maker) कंपनी सुला वाइनयार्ड्स का आईपीओ (IPO) 12 दिसंबर को सब्सक्राइबर्स के लिए ओपन हो सकता है. कंपनी ने जुलाई 2022 में कंपनी ने मार्केट रेग्यूलेटर सेबी (SEBI) के पास ड्राफ्ट रेडहेरिंग प्रॉस्पेक्टस (DRHP) कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है जमा किया था. कंपनी ने लॉन्च से पहले अपने इश्यू साइज को 1200-1400 करोड़ रुपये से घटा दिया है. अब इश्यू का आकार 960.35 करोड़ रुपये होगा.

डिविडेंड से कमाई का मौका! स्मॉल कैप कंपनी देगी 9 रुपये प्रति शेयर का लाभांश, तय हुई रिकॉर्ड डेट

मॉर्गनाइट क्रूसिबल का मुनाफा इस तिमाही में घटा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated : November 13, 2022, 15:12 IST

हाइलाइट्स

इस कंपनी का मार्केट कैप करीब 550 करोड़ रुपये का है.
इसके शेयरों की मौजूदा कीमत 953 रुपये प्रति शेयर है
इसके शेयरों में एक साल में 5 फीसदी से अधिक गिरावट आई है.

नई दिल्ली. कंपनियां तिमाही नतीजे जारी कर रही हैं और स्टॉक मार्केट में डिविडेंड व बोनस शेयरों की बहार है. शेयर मार्केट में बुल रन के साथ डिविडेंड व बोनस शेयरों की घोषणा से निवेशकों की चांदी हो गई है. इसी बीच एक और कंपनी ने डिविडेंड की घोषणा कर दी है. इस कंपनी का नाम मॉर्गनाइट क्रूसिबल (इंडिया) लिमिटेड. यह एक स्मॉल कैप कंपनी है. इसका मार्केट कैप 553.85 करोड़ रुपये है.

कंपनी ने डिविडेंड के लिए रिकॉर्ड डेट भी फिक्स कर दी है. कंपनी ने बाजार नियामक को दी जानकारी में कहा, “10 नवंबर 2022, दिन गुरुवार को बोर्ड ऑफ डॉयरेक्टर्स ने 9 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड देने का ऐलान किया है.” कंपनी ने बताया कि कुल अंतरिम कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है डिविडेंड 504 लाख रुपये का है. कंपनी ने 23 नवंबर 2022 को डिविडेंड के लिए रिकॉर्ड डेट के रूप में फिक्स किया है.

Share Holder बनने से अतिरिक्त शेयरों का लाभ मिलता है

Extra Share benefits से आशय कंपनी की उस क्रिया से है जिसमे कंपनियां समय समय पर अपने शेयर धारकों को प्रोत्साहित करने के लिए कुछ अतिरिक्त लाभ मुहैया कराती हैं | इनमे right issue और bonus share जैसे benefits प्रमुख हैं | right issue किसी कंपनी द्वारा केवल और केवल अपने वर्तमान Share holders के लिए जारी किया जाता है, इसमें कंपनी share holders को उसके कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है शेयर तात्कालिक दामों से कम दामों में बेचती है और यदि कोई व्यक्ति being a share holder right issue खरीदने से मना कर कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है देता है |

तब कंपनी उसको बाहर के व्यक्ति को बेचती है | इसके अलावा कंपनी Bonus issue जारी करके अपने share holders को उनके पास मौजूद शेयरों के मुताबिक bonus share देती है | उदाहरणार्थ : माना ABC नामक कंपनी अपना Bonus issue जारी करके प्रत्येक दो शेयर पर एक बोनस शेयर की घोषणा करती है तो इस स्थिति में जिस शेयर होल्डर के पास कंपनी के 100 शेयर हैं bonus shares को मिला के 150 हो जायेंगे |

मीटिंग में भाग लेने और वोटिंग का अधिकार मिलता है

किसी भी निर्णय को अंजाम तक पहुँचाने के लिए विचार विमर्श बेहद जरुरी होता है | यही कारण है की कंपनियों में भी निर्णय लेने से पहले अधिकारिक लोगों के बीच विचार विमर्श किये जाते हैं | कंपनी इन निर्णयों में विचार विमर्श का अधिकार अपने शेयर होल्डरों को उनके द्वारा लिए गए कंपनी के शेयरों के अनुपात के आधार पर प्रदान करती है |

हर साल कंपनी को कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है अपने आप को आगे बढाने के लिए विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श की आवश्यकता पड़ती है और यदि कोई ऐसा मुद्दा जो विचार विमर्श के माध्यम से हल नहीं होता तो इस स्थिति में कंपनी शेयर होल्डर को वोट देने का अधिकार देती है | और उसी निर्णय को अंतिम रूप दे दिया जाता है जिस निर्णय के साथ अधिक निवेशक खड़े रहते हैं |

पोस्टल वॉलेट की सुविधा मिलती है

निवेशकों की समस्या को ध्यान में रखते कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है हुए Postal wallet नामक concept प्रचलन में आया है, इस concept की खासियत यह है की being a shareholder कोई भी व्यक्ति कंपनी के महत्वपूर्ण निर्णयों में अपनी भागीदारी पोस्टल के माध्यम से भी कर सकता है | इसमें शेयर होल्डर को मीटिंग में उपस्थित होना जरुरी नहीं होता बल्कि वह अपना वोट पोस्ट ऑफिस के माध्यम से कंपनी को भेज सकता है |

और इसकी अहमियत भी उतनी ही होती है जितनी उपस्थित निवेशको के वोट की | कंपनी इस Postal wallet में निवेशकों को निर्णय सम्बन्धी सभी जानकारी जैसे निर्णय क्यों लिया जा रहा है इत्यादि details भेजती है | जिसमे being a share holder व्यक्ति अपने शेयरों की संख्या और पक्ष विपक्ष में वोट देकर वापस भेजता है |

उपर्युक्त benefits के अलावा being a share holder व्यक्ति को कंपनी विभिन्न benefits जैसे शेयरों की खरीद फरोख्त की आज़ादी अर्थात निवेशक चाहे तो कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है अपने शेयर किसी भी कीमत पर बेच सकता है | और कंपनी के सरप्लस पर भी शेयरों के आधार पर हिस्सेदारी देती है |

कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है

एक व्यक्ति किसी कंपनी के 1000 .

एक व्यक्ति किसी कंपनी के 1000 शेयर (रु 10 प्रति शेयर सममूल्य वाले) जिन पर 20% लाभांश मिलता है, प्रत्येक को कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है रु 25 में बेचता है। वह प्राप्त धन को एक अन्य कंपनी के शेयरों (रु 100 प्रति सममूल्य वाले) जिन पर `12(1)/2%` लाभांश घोषित है, में रु 125 प्रति शेयर की दर कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है से निवेश करता है। उसकी आय में परिवर्तन ज्ञात कीजिए।

Updated On: 27-06-2022

UPLOAD PHOTO AND GET THE ANSWER NOW!

Get Link in SMS to Download The Video

Aap ko kya acha nahi laga

प्रश्न है एक व्यक्ति किसी कंपनी के 1000 से ₹1 10% मूल्य वाले जिन पर 20% लाभांश मिलता है प्रत्येक को ₹25 में बेचता है कंपनी अपना शेयर कैसे बेचती है वह प्राप्त धन को एक अन्य कंपनी के शेयरों में जो कि सौ-सौ मूल्य वाले हैं और उन पर साढे 12% लाभांश मिलता है उसको ₹125 प्रति शेयर की दर से निवेश करता है तो उसकी आय में परिवर्तन की याद करिए तो चलिए सबसे पहले हम उसकी पुरानी आए पता कर लेते हैं देखिए 1000 से और उसके पास है और प्रत्येक का जो सममूल्य था 10 था और उस पर 20% लाभ मिलता था तो चलिए पहले हम प्रत्येक शेयर पर लाभ सहित आए पता कर लेते प्रत्येक शेयर पर कितनी हो जाएगी देखे 10 10 10 10 का

रेटिंग: 4.64
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 789