यूज़र्स को ईवेंट में भाग लेने के लिए ईवेंट के लिंक में "अभी रजिस्टर करें" पर क्लिक करना होगा

बिटकॉइन ब्रोकर फीस

Huobi डेरिवेटिव्स ट्रेडिंग प्रतियोगिता में 3,000,000 USDT का शेयर जीतें!

ईवेंट शेड्यूल:

डेरिवेटिव्स ट्रेडिंग प्रतियोगिता

17 जुलाई, 2022 17:30:00 - 29 जुलाई, 2022 17:30:00 (UTC+5:30)

1. दोस्तों को रेफ़र करें और रिवॉर्ड्स पाएं

17 जुलाई, 2022 17:30:00 - 29 जुलाई, 2022 17:30:00 (UTC+5:30)

टीम-अप करने की अवधि

17 जुलाई, 2022 17:30:00 - 23 जुलाई, 2022 17:30:00 (UTC+5:30)

23 जुलाई, 2022 17:30:00- 29 जुलाई, बिटकॉइन ब्रोकर फीस 2022 17:30:00 (UTC+5:30)

3. व्यक्तिगत चैलेंज

23 जुलाई, 2022 17:30:00 - 29 जुलाई, 2022 17:30:00 (UTC+5:30)

पात्रता:

इस ईवेंट के लिए पात्र होने के लिए यूज़र्स के पास साइन अप करने से पहले पिछले 30 दिनों में कम से कम 1,000 USDT (इसके बराबर) का क्यूम्यलेटिव डेरिवेटिव ट्रेडिंग वॉल्यूम होना चाहिए।

खाते से धन कैसे निकालें

आप अपने निजी क्षेत्र में निकासी संवाद के माध्यम से अपने लाइव ट्रेडिंग खाते से धन निकाल सकते हैं। आप इस संवाद को निम्नलिखित तरीकों से एक्सेस कर सकते हैं:

  • "माय मनी" सेक्शन में "विथड्रॉ" पर क्लिक करें
  • "लाइव अकाउंट्स" सूची से आवश्यक खाते के साथ लाइन का चयन करें, "एलिप्सिस" आइकन (. ) पर क्लिक करें, और "धन निकालें" फ़ंक्शन चुनें.

"निकासी विधि चुनें" संवाद के पहले पृष्ठ में आपके लिए उपलब्ध निकासी विधियों की एक सूची शामिल है, जैसे कि बुनियादी लोगों - बैंक हस्तांतरण, डेबिट/क्रेडिट बैंक कार्ड, बिटकॉइन ट्रांसफर, आदि, साथ ही अतिरिक्त लोग, कुछ देशों और दुनिया के क्षेत्रों से हस्तांतरण के लिए उपलब्ध हैं। प्रत्येक निकासी विधि को तीन मुख्य मापदंडों की विशेषता है - निकासी की शर्तें, प्रसंस्करण समय (कुछ मिनट से 2-3 व्यावसायिक दिनों तक), ट्रांसफर फीस.

गोरखधंधा : पुनीत ने विष्णु अग्रवाल को सस्ते में बेच दी चेशायर होम रोड की जमीन, घाटे का सौदा किया

Ranchi : पावर ब्रोकर प्रेम प्रकाश के करीबी पुनीत भार्गव ने रांची में जमीन के कारोबार में करोड़ों रुपये का निवेश किया है. पुनीत भार्गव ने रांची के चेशायर होम रोड में जिस भूमि की डील की थी, उसकी रजिस्ट्री के लिए एक करोड़ अस्सी लाख रुपये से अधिक राशि खर्च की. सारे पैसों का ट्रांजेक्शन चेक के माध्यम से राजेश राय को किया. पूरी राशि के भुगतान के लिए बैंक ऑफ बड़ौदा के एकाउंट के आठ चेक का इस्तेमाल किया गया.

करीब 5.50 लाख रुपये का नुकसान हुआ

पुनीत भार्गव ने राजेश राय से 6 फरवरी 2021 को जमीन खरीदी. दो महीने बाद इस भूखंड को 1 करोड़ 80 लाख रुपये में विष्णु अग्रवाल को बेच दी. इस पूरी डील में पुनीत भार्गव को करीब 5.50 लाख रुपये का नुकसान हुआ. क्योंकि जमीन रजिस्ट्री करने के एवज में पुनीत भार्गव ने राजेश राय को 1 करोड़ 78 लाख 55 हजार 800 रुपये का भुगतान किया और करीब 7 लाख रुपये का खर्च स्टांप और कोर्ट फीस में हुआ था.

अब सवाल यह उठता है कि करोडों रुपये का निवेश करने के बाद भी पुनीत भार्गव ने घाटे का सौदा क्यों किया ? जमीन के कारोबार से जुड़े लोग बताते हैं कि ऐसा कम ही होता है कि कोई कारोबारी जमीन में इनवेस्ट करे और मुनाफा कमाने के बजाए अपना ही नुकसान कर डील करे. वो भी तब जब भूखंड का लोकेशन पॉश इलाके में हो और भूमि के सभी कागजात अपटूडेट हों.

गोरखधंधा : पुनीत ने विष्णु अग्रवाल को सस्ते में बेच दी चेशायर होम रोड की जमीन, घाटे का सौदा किया

Ranchi : पावर ब्रोकर प्रेम प्रकाश के करीबी पुनीत भार्गव ने रांची में जमीन के कारोबार में करोड़ों रुपये का निवेश किया है. पुनीत भार्गव ने रांची के चेशायर होम रोड में जिस भूमि की डील की थी, उसकी रजिस्ट्री के लिए एक करोड़ अस्सी लाख रुपये से अधिक राशि खर्च की. सारे पैसों का ट्रांजेक्शन चेक के माध्यम से राजेश राय को किया. पूरी राशि के भुगतान के लिए बैंक ऑफ बड़ौदा के एकाउंट के आठ चेक का इस्तेमाल किया गया.

करीब 5.50 लाख रुपये का नुकसान हुआ

पुनीत भार्गव ने राजेश राय से 6 फरवरी 2021 को जमीन खरीदी. दो महीने बाद इस भूखंड को 1 करोड़ 80 लाख रुपये में विष्णु अग्रवाल को बेच दी. इस पूरी डील में पुनीत भार्गव को करीब 5.50 लाख रुपये का नुकसान हुआ. क्योंकि जमीन रजिस्ट्री करने के एवज में पुनीत भार्गव ने राजेश राय को 1 करोड़ 78 लाख 55 हजार 800 रुपये का भुगतान किया और करीब 7 लाख रुपये का खर्च बिटकॉइन ब्रोकर फीस स्टांप और कोर्ट फीस में हुआ था.

अब सवाल यह उठता है कि करोडों रुपये का निवेश करने के बाद भी पुनीत भार्गव ने घाटे का सौदा क्यों किया ? जमीन के कारोबार से जुड़े लोग बताते हैं कि ऐसा कम ही होता है कि कोई कारोबारी जमीन में इनवेस्ट करे और मुनाफा कमाने के बजाए अपना ही नुकसान कर डील करे. वो भी तब जब भूखंड का लोकेशन पॉश इलाके में हो और भूमि के सभी कागजात अपटूडेट हों.बिटकॉइन ब्रोकर फीस

केले के उत्पादन में आई भारी कमी, किसानों ने भी लिया अब बड़ा फैसला

महाराष्ट्र के किसानों की समस्या कम होने का नाम नही ले रही हैं.पहले प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों को नुकसान झेलना पड़ा तो वही अब ओमीक्रोन का असर कृषि व्यवसाय पर पड़ने लगा हैं.जहां केले की कीमत पहले ही कम हो चुकी है, वहीं किसान अब इस दुविधा में हैं कि केले का उत्पादन करें या नहीं हालांकि, भविष्य में केले की भारी कमी होगी और कीमतें भी बढ़ेंगी,लेकिन मौजूदा स्थिति में सवाल उठता है कि क्या किसान केले की खेती करेंगे या नही क्यों कि वर्तमान में कोल्हापुर जिले…

घर बैठे पा सकते हैं e-PAN, ऐसे करें अप्लाई, मिनटों में हो जाएगा काम

Online PAN apply: इनकम टैक्स विभाग टैक्सपेयर्स को ई-पैन जारी करने की भी सर्विस देता है. यह सेवा उन टैक्सपेयर्स के लिए होती है, जिन्हें परमानेंट अकाउंट नंबर (पैन) अलॉट नहीं किया गया है. इसमें केवल एक शर्त यह है कि व्यक्ति के पास अपना आधार नंबर होना चाहिए और उसका मोबाइल नंबर से लिंक होना जरूरी है. ई-पैन के लिए अप्लाई करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है. जैसे पहले बताया गया है कि मान्य आधार और उससे लिंक्ड मोबाइल नंबर जरूरी हैं. इसके अलावा आवेदक को…

मछली पालन से चमकी लक्ष्मण केवट की किस्मत

गुना। बजरंगगढ़ निवासी लक्ष्मण केवट पहले गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करते थे। इनके पास आमदनी का कोई भी धंधा नहीं था। श्री केवल ने मत्स्य कार्यालय से संपर्क कर मछली पालन के धंधे में अपनी रुचि बताई। मत्स्य पालन विभाग द्वारा श्री केवट को बजरंगगढ़ में स्थित शासकीय तालाब क्षेत्र में एक हेक्टेयर मत्स्य पालन हेतु लीज पर दिलाया गया। विभाग की मदद से श्री केवट तालाब में आधुनिक तरीके से मछली पालन कर लगभग 7 लाख रुपए प्रतिवर्ष कमा रहे हैं। इसके साथ ही सिंघाड़े से आय…

रेटिंग: 4.27
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 616