क्या है विदेशी मुद्रा भंडार ?

विदेशी मुद्रा भंडार ने फिर लगाया गोता, 7 दिनों में 1.09 अरब डॉलर की आई गिरावट

मुंबई. देश के विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) में फिर गिरावट आई है. 4 नवंबर, 2022 को खत्म विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट हुए सप्ताह में यह 1.09 अरब डॉलर घटकर 529.99 अरब डॉलर रह गया. इसका कारण गोल्ड रिजर्व में आई भारी गिरावट है. भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई (RBI) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है.

रिजर्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले सप्ताह विदेशी मुद्रा भंडार 6.56 अरब डॉलर बढ़कर 531.08 अरब डॉलर हो गया था जो वर्ष के दौरान किसी एक सप्ताह में आई सबसे अधिक तेजी थी. एक साल पहले अक्टूबर, 2021 में देश का विदेश मुद्रा भंडार 645 अरब डॉलर के अब तक के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गया था.

12 करोड़ डॉलर घटी एफसीए

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, देश के मुद्रा भंडार में गिरावट आने का मुख्य कारण यह है कि वैश्विक घटनाक्रमों की वजह से रुपये की गिरावट को थामने के लिए आरबीआई मुद्रा भंडार से मदद ले रहा है. रिजर्व बैंक द्वारा शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार, 4 नवंबर को समाप्त सप्ताह के दौरान मुद्रा भंडार का महत्वपूर्ण घटक मानी जाने वाली, फॉरेन करेंसी एसेट यानी एफसीए (FCA) 12 करोड़ डॉलर घटकर 470.73 अरब डॉलर रह गईं. डॉलर विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट में बताई जाने वाली एफसीए में विदेशी मुद्रा भंडार में रखी यूरो, पाउंड और येन जैसी दूसरी विदेशी मुद्राओं के मूल्य में वृद्धि या कमी का प्रभाव भी शामिल होता है.

विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट, जानिए कितना रह गया

बिजनेस विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट डेस्कः देश के विदेशी मुद्रा भंडार में एक बार फिर से गिरावट हुई है। यह लगातार तीसरा सप्ताह है जबकि इसमें कमी हुई है। इससे पहले सिर्फ दो सप्ताह इसमें बढ़ोतरी हुई थी। उससे पहले लगातार 10 सप्ताह तक इसमें कमी भी हुई थी। रिजर्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक बीते 17 जून को समाप्त सप्ताह में भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 5.87 अरब डॉलर की कमी हुई है। इसी के साथ अब अपना विदेशी मुद्रा भंडार घट कर 590.588 अरब डॉलर रह गया है। इससे पिछले सप्ताह (10 जून 2022 को समाप्त सप्ताह में) विदेशी मुद्रा भंडार 4.599 अरब डॉलर घटकर 596.458 अरब डॉलर रह गया था। ऐसा लगातार तीसरे सप्ताह हुआ, जबकि भारत का विदेशी मुद्रा भंडार घटा है।

20 मई से पहले भी लगातार 10 सप्ताह तक घटा था
अपना विदेशी मुद्रा भंडार एक महीने से अधिक समय तक 600 बिलियन डॉलर से नीचे रहा था। इसके साथ ही यह लगातार 10 सप्ताह तक गिरा था। तब जा कर 20 मई 2022 और 27 मई 2022 को समाप्त सप्ताह के दौरान इसमें बढ़ोतरी हुई थी। आरबीआई के साप्ताहिक सांख्यिकीय आंकड़ों के मुताबिक 27 मई को सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 3.854 अरब डॉलर बढ़कर 601.363 अरब डॉलर तक पहुंच गया था।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

अमेरिका ने ताइवान को दो नए महत्वपूर्ण हथियारों की बिक्री की मंजूरी दी

अमेरिका ने ताइवान को दो नए महत्वपूर्ण हथियारों की बिक्री की मंजूरी दी

NSA डोभाल ने एशियाई विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट देशों संग कनेक्टिविटी पर की चर्चा, अफगानिस्तान में आतंकवाद पर जताई चिंता

विदेशी मुद्रा भंडार और स्वर्ण भंडार में इस बार भी दर्ज हुई बढ़त

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। देश में जमा होने वाले विदेशी मुद्रा भंडार विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट और स्वर्ण भंडार जमा के आंकड़े समय-समय पर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) जारी करता आया हैं। इस साल इन आंकड़ों में ज्यादातर गिरावट ही देखने को मिलती रही है। इस साल की शुरुआत में 2 बार बढ़त के बाद इसमें लगातार गिरावट बनी हुई है।वहीँ, पिछली बार दर्ज हुई बढ़त के बाद इस बार इसमें फिर से बढ़त दर्ज हुई है। इसके अलावा यदि स्वर्ण भंडार की बात की जाए तो उसका हाल भी कुछ कुछ विदेशी मुद्रा भंडार जैसा ही रहा है। इस बार RBI द्वारा जारी हुए आंकड़ो के मुताबिक, विदेशी मुद्रा भंडार और स्वर्ण भंडार दोनों में बढ़त दर्ज हुई है।

Foreign Currency Reserve: लगातार छठे हफ्ते में विदेशी मुद्रा भंडार घटा, जानिए गोल्ड रिजर्व कितना बचा?

सांकेतिक तस्वीर

देश के फाॅरेन करेंसी असेट में फिर कमी दर्ज की गई है। लगातार छठे हफ्ते में इसमें गिरवट दर्ज की गई है। इसके कारण देश का कुल विदेशी मुद्रा भंडार भी नीचे फिसला है। नौ सितंबर को समाप्त हुए सप्ताह में भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 2.23 अरब डॉलर की कमी आई है। इस पहले बीते दो अगस्त 2022 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में 7.94 अरब डाॅलर की कमी आई थी। यह कम होकर 553.105 अरब डॉलर रह गया था।

रिजर्व बैंक की ओर से जारी किए गए आंकड़े

विस्तार

देश के फाॅरेन करेंसी असेट में फिर कमी दर्ज की गई है। लगातार छठे हफ्ते में इसमें गिरवट दर्ज की गई है। इसके कारण देश का कुल विदेशी मुद्रा भंडार भी नीचे फिसला है। नौ सितंबर को समाप्त हुए सप्ताह में भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 2.23 अरब डॉलर की कमी आई है। इस पहले बीते दो अगस्त 2022 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में 7.94 अरब डाॅलर की कमी आई थी। यह कम होकर 553.105 अरब डॉलर रह गया था।

रिजर्व बैंक की ओर से विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट जारी किए गए आंकड़े

आरबीआई की ओर से जारी सूचना के अनुसार नौ सितंबर 2022 को खत्म हुए सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में 2.234 अरब डॉलर घटकर 550.871 अरब डॉलर विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट रह गया है। इससे पहले बीते दो सितंबर को यह कम होकर 553.105 अरब डॉलर रह गया था। पांच अगस्त को समाप्त हुए हफ्ते के बाद इसमें लगातार गिरावट दर्ज की गई है। उससे पहले 29 जुलाई को समाप्त हुए हफ्ते में विदेशी मुद्रा भंडार 2.4 अरब डॉलर बढ़कर 573.875 अरब डॉलर हो गया था। उसके बाद लगातार चार हफ्तों से इसमें गिरावट जारी है।

विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट, अब इतना अरब डॉलर हो गया कम

देश का विदेशी मुद्रा भंडार तीन दिसंबर को समाप्त सप्ताह में 1.783 अरब डॉलर घटकर 635.905 अरब विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट डॉलर रहा। भारतीय रिजर्व बैंक के शुक्रवार को जारी आंकड़े के विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट अनुसार इससे पिछले सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 271.3 करोड़ डॉलर घटकर 637.687 अरब डॉलर रह गया था। आरबीआई के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार तीन दिसंबर को समाप्त समीक्षाधीन सप्ताह में विदेशीमुद्रा भंडार में गिरावट आने की वजह विदेशी मुद्रा आस्तियों ( एफसीए ) में गिरावट आना था जो कुल मुद्रा भंडार का अहम हिस्सा होता है।

एफसीए 1.4 अरब डॉलर घटा

रिजर्व बैंक के आंकड़ों के विदेशी मुद्रा भंडार में फिर आई गिरावट अनुसार, सप्ताह के दौरान एफसीए 1.483 अरब डॉलर घटकर 573.181 अरब डॉलर रह गया। डॉलर में अभिव्यक्त किये जाने वाले विदेशीमुद्रा आस्तियों में विदेशी मुद्रा भंडार में रखे यूरो, पौंड और येन जैसे गैर-अमेरिकी मुद्रा के घट बढ़ को भी शामिल किया जाता है।

रेटिंग: 4.19
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 552