इन देशों में प्रतिबंधित है बिटकॉइन

Petrol Diesel CNG Price Today 25 December 2022 (Jagran File Photo)

Jagran Trending: जानें किन देशों में क्रिप्टोकरेंसी है वैध और किन देशों ने लगाई है पाबंदी

अगर आप बिटकॉइन (क्रिप्टोकरेंसी) में निवेश कर मुनाफा कमाने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको सबसे पहले ये जानना जरूरी है कि बिटकॉइन आपके देश में लीगल भी या नहीं? इसीलिए आज हम आपको यहां बताएंगे कि बिटकॉइन कहां लीगल है और कहां अवैध।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। क्या आप क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) खरीदने-बेचने या उसमें निवेश करने के बारे में सोच क्रिप्टोकरेंसी का सबसे आम प्रकार रहे हैं? अगर आपका जवाब हां है, तो सबसे पहले आपको यह जान लेना चाहिए कि क्रिप्टोकरेंसी आखिर आपके देश में लीगल है भी या नहीं है। क्रिप्टोकरेंसी को लेकर सभी देशों में अलग-अलग नियम हैं। उनमें से कुछ देशों में क्रिप्टोकरेंसी को वर्चुअल रुपये की जगह पर इस्तेमाल किया जा सकता है। मतलब क्रिप्टोकरेंसी से हर वो काम किए जा सकते हैं, जो कि नॉर्मल करेंसी से होते हैं। हालांकि कुछ अन्य देशों में क्रिप्टोकरेंसी खरीदने पर आपको जेल हो सकती है। वहीं, कुछ देशों ने तो इसे विनियमित करने की जहमत तक नहीं उठाई है, क्रिप्टोकरेंसी को क्रिप्टोकरेंसी का सबसे आम प्रकार कानूनी अधर में छोड़ दिया है। आइए इस आर्टिकल के जरिए जानते हैं कि आखिर बिटकॉइन (क्रिप्टोकरेंसी) क्या है और कहां प्रतिबंधित है? कहां कानूनी हैं और कहां न तो कानूनी और न ही अवैध है?

चमकी किस्मत: इन चार युवाओं को 'क्रिप्टोकरेंसी' ने बना दिया अरबपति, जानें कितनी है इनकी संपत्ति

क्रिप्टोकरेंसी

दुनियाभर में क्रिप्टोकरेंसी में निवेश को लेकर लोगों में काफी उत्साह है। भारत में भी बड़ी संख्या में लोग क्रिप्टोकरेंसी (cryptocurrency) में पैसे लगा रहे हैं। क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने से जहां आम लोगों को फायदा हो रहा है वहीं कई ऐसे युवा हैं जिन्होंने इसमें निवेश कर अकूत संपत्ति बना ली। इतना ही नहीं फोर्ब्स की सबसे अमीर अमेरिकी लोगों की सूची में भी इनका नाम है। आइए जानते हैं कौन हैं वो युवा क्रिप्टोकरेंसी का सबसे आम प्रकार जो कि पहले मध्यमवर्गीय परिवार से ताल्लुकात रखते थे लेकिन क्रिप्टोकरेंसी ने उनकी किस्मत बदल दी.

विस्तार

दुनियाभर में क्रिप्टोकरेंसी में निवेश को लेकर लोगों में काफी उत्साह है। भारत में भी बड़ी संख्या में लोग क्रिप्टोकरेंसी (cryptocurrency) में पैसे लगा रहे हैं। क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने से जहां आम लोगों को फायदा हो रहा है वहीं कई ऐसे युवा हैं जिन्होंने इसमें निवेश कर अकूत संपत्ति बना ली। इतना ही नहीं फोर्ब्स की सबसे अमीर अमेरिकी लोगों की सूची में भी इनका नाम है। आइए जानते हैं कौन हैं वो युवा जो कि पहले मध्यमवर्गीय परिवार से ताल्लुकात रखते थे लेकिन क्रिप्टोकरेंसी ने उनकी किस्मत बदल दी.

सैम बैंकमैन-फ्राइड
क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज एफटीएक्स (FTX) के फाउंडर और सीईओ सैम बैंकमैन-फ्राइड क्रिप्टो इंडस्ट्री की ओर से फोर्ब्स की सूची में शामिल होने वाले सबसे अमीर अरबपति हैं। सैम बैंकमैन-फ्राइड की कुल संपत्ति 1.67 लाख करोड़ रुपये से अधिक है। वे 17.51 लाख करोड़ रुपये के क्रिप्टों साम्राज्य पर हावी होने के लिए चल रही प्रतिस्पर्धा पर हावी होने वाले चार प्रमुख खिलाड़ियों में से एक हैं। उनकी ज्यादातर संपत्ति एफटीएक्स के शेयरों और टोकन में है। वे क्रिप्टो इंडस्ट्री की ओर से फोर्ब्स की सूची में शामिल होने वाले सबसे अमीर अरबपति हैं।

कितने प्रकार की होती है क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग ?

कितने प्रकार की होती है क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग ?

क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जो प्रूफ-ऑफ-वर्क (PoW) मैथड का उपयोग करने वाली क्रिप्टोकरेंसी के लिए ब्लॉकचेन में नए ट्रांजेक्शन को वैरिफाई करती है और जोड़ती है. इसमें प्रतियोगिता जीतने वाले माइनर को कुछ करेंसी / ट्रांजेक्शन फीस रिवार्ड के रूप में दी जाती है.

क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग के अलग-अलग तरीकों के लिए अलग-अलग समय की आवश्यकता होती है. टेक्नोलॉजी के शुरुआती दिनों में, उदाहरण के लिए, अधिकांश माइनर्स के लिए CPU माइनिंग सबसे लोकप्रिय विकल्प था. हालांकि, कई लोगों को CPU माइनिंग आज बहुत धीमी और अव्यवहारिक प्रक्रिया लगती है क्योंकि हाई इलेक्ट्रिकल और कूलिंग की लागत और बोर्ड भर में बढ़ी हुई कठिनाई को देखते हुए लाभ की एक छोटी राशि भी अर्जित करने में महीनों लगते हैं.

अकेले माइनर

कोई भी विशेष माइनर हार्डवेयर खरीद सकता है और इंटरनेट से जुड़ सकता है. यह आज की तुलना में 2010 की शुरुआत में ज्यादा चलन में था. हालाँकि, नई करेंसी हर समय ऑनलाइन आती हैं, और यदि वे प्रूफ-ऑफ-स्टेक (PoS) के बजाय प्रूफ-ऑफ-वर्क (PoW) मैथड को फॉलो करती हैं, तो नियमित कंप्यूटर या हाई-एण्ड GPU वाले कंप्यूटर माइनिंग के लिए पर्याप्त हो सकते हैं.

माइनिंग पूल माइनर्स को ब्लॉकचेन पर ब्लॉक ढूंढ़ने और माइनिंग करने की संभावना बढ़ाने के लिए अपने कम्प्यूटेशनल संसाधनों को जोड़ने की अनुमति देता है. यदि एक माइनिंग पूल सफल होता है, तो प्रत्येक माइनर द्वारा पूल में योगदान किए गए संसाधनों की मात्रा के अनुपात में, माइनिंग पूल में रिवार्ड बांटा जाता है.

अधिकांश क्रिप्टो माइनिंग एप्लिकेशन माइनिंग पूल के साथ आते हैं; हालांकि, क्रिप्टो उत्साही अब अपने स्वयं के माइनिंग पूल बनाने के लिए ऑनलाइन कनेक्ट होते हैं. क्योंकि कुछ पूल दूसरों की तुलना में ज्यादा रिवार्ड देते हैं. माइनर अपनी मर्जी के मुताबिक, जब भी जरूरत हो, पूल बदलने के लिए स्वतंत्र होते हैं.

क्लाउड माइनिंग

लोग क्लाउड माइनिंग सर्विस पर समय किराए पर ले सकते हैं और मासिक शुल्क का भुगतान कर सकते हैं.

दो प्रमुख क्रिप्टो, बिटकॉइन और एथेरियम के लिए माइनर जिस पहेली को हल करने का प्रयास करते हैं, वह बहुत अधिक बिजली की खपत करती है. बिटकॉइन और एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी का सबसे आम प्रकार एक साथ उतनी ही ऊर्जा की खपत करते हैं, जितनी इंडोनेशिया एक देश के रूप में करता हैं. हालांकि, एथेरियम अपने आम मैथड को बदल रहा है, जो 2020 के अंत में शुरू हुआ था.

Crypto Credit Card: दुनिया में पहली बार क्रिप्टो वाला क्रेडिट कार्ड लॉन्च, ऐसे कर पाएंगे 'फ्री' में शॉपिंग!

दुनिया का पहला क्रिप्टो क्रेडिट कार्ड

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 13 अप्रैल 2022,
  • (अपडेटेड 13 अप्रैल 2022, 6:59 PM IST)
  • डिजिटल एसेट की वैल्यू के हिसाब से क्रेडिट
  • क्रिप्टो वाले क्रेडिट कार्ड में कई खास फीचर

क्रिप्टो लेंडर कंपनी नेक्सो (Nexo) ने दुनिया का पहला क्रिप्टो बैक्ड पेमेंट-कार्ड (Crypto Backed Payment Card) लॉन्च करने के लिए ग्लोबल पेमेंट कंपनी मास्टरकार्ड (Mastercard) के साथ हाथ मिलाया है. यह पेमेंट-कार्ड आम क्रेडिट कार्ड (Credit Card) की तरह ही काम करेगा और यूजर क्रिप्टो एसेट (Crypto Asset) को बिना लिक्विड किए शॉपिंग कर पाएंगे. इस कार्ड में कई शानदार फीचर्स होंगे, जिनमें एक लिमिट तक खर्च करने पर शून्य ब्याज शामिल है.

सम्बंधित ख़बरें

क्रिप्टोकरेंसी के लिए कैसा रहा साल 2022?
एक गलती से हुआ कंगाल, अब कूड़े में ढूंढ रहा है 1400 करोड़ का सबूत
इन दो भारतीयों को अमेरिका में 20 साल की कैद, ये था अपराध!
FBI की टॉप मोस्ट वांटेड लिस्ट में 'क्रिप्टो क्वीन', 1 लाख डॉलर का इनाम
क्या क्रिप्टो करेंसी का बुलबुला फूट रहा है? Bitcoin से Dogecoin तक बेहाल

सम्बंधित ख़बरें

90 फीसदी वैल्यू के बराबर क्रेडिट लाइन

ज्यादातर पारंपरिक क्रेडिट कार्ड अनसिक्योर्ड (Unsecured) होते हैं. उनके उलट नेक्सो के क्रिप्टो बैक्ड कार्ड में डिजिटल एसेट को बतौर सिक्योरिटी रखा जाएगा. नेक्सो ने कहा कि ये कार्ड दुनिया भर के उन 92 मिलियन मर्चेंट के यहां इस्तेमाल किए जा सकेंगे, जहां मास्टरकार्ड एक्सेप्ट होते हैं. ये कार्ड नेक्सो प्रोवाइडेड क्रिप्टो बैक्ड क्रेडिट लाइन (Credit Line) से लिंक्ड होंगे. ऐसे कार्ड के जरिए यूजर अपने क्रिप्टो एसेट की 90 फीसदी वैल्यू के बराबर खर्च कर पाएंगे.

इतना खर्च करने पर नहीं लगेगा ब्याज

क्रिप्टो बैक्ड कार्ड की कुछ अन्य खास बातों में किसी प्रकार के मिनिमम रीपेमेंट (Minimum Repayment) की जरूरत नहीं होना, कोई मंथली फीस नहीं होना और इनैक्टिव होने पर किसी प्रकार की पेनाल्टी का नहीं होना शामिल है. इसके अलावा एक महीने में 20 हजार यूरो तक खर्च करने पर किसी एफएक्स फीस (FX Fee) का भी प्रावधान नहीं है. यूजर को जितना क्रेडिट लाइन मिलेगा, उसके ऊपर खर्च करने या निकासी करने की कोई लिमिट नहीं होगी. यूजर जितना क्रेडिट लाइन यूज करेगा, सिर्फ उसके ऊपर इंटेरेस्ट का भुगतान करना होगा. हालांकि लिमिट के 20 फीसदी हिस्से के बराबर खर्च करने पर कोई ब्याज भी नहीं लगेगा.

Crypto करेंसी का बुलबुला फूटा, Bitcoin में इस साल आ सकती है गिरावट: रिपोर्ट

  • नई दिल्ली,
  • 18 जनवरी 2022,
  • (अपडेटेड 18 जनवरी 2022, 12:43 PM IST)
  • Invesco की रिपोर्ट में जताया गया अनुमान
  • राजन भी Crypto को बता चुके हैं बबल

Cryptocurrency का बुलबुला फूट गया है और Bitcoin इस साल काफी नीचे आ सकता है. यूएस इंवेस्टमेंट कंपनी Invesco की एक रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है. इंवेस्टमेंट कंपनी ने ऐसे कुछ परिणाम को लेकर एक अनुमान लगाया है जो असंभव दिखता है लेकिन संभव हो सकता है.

यूएस इंवेस्टमेंट कंपनी के ग्लोबल हेड (असेट एलोकेशन) पॉल जैक्सन ने सोमवार को एक नोट में कहा, "Bitcoin की बड़े पैमाने पर मार्केटिंग 1929 में स्टॉक मार्केट क्रैश होने से पहले स्टॉक ब्रोकर्स की गतिविधियों की याद दिलाता है."

रेटिंग: 4.75
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 547