अमित का करियर

गोल्ड ईटीएफ एक, दाम अनेक

अभी हमारे शेयर बाजारों में सात गोल्ड ईटीएफ लिस्टेड हैं। इन सभी में एक यूनिट एक ग्राम सोने के समतुल्य है। लेकिन सभी के दाम अलग-अलग हैं। यहां तक कि इनमें घट-बढ़ भी अलग-अलग होती है, जबकि सोने के दाम तो समान रूप से ही बढ़ते-घटते हैं। जैसे, 16 जून 2010 को बीएसई में बेंचमार्क गोल्ड बीज़ 0.66 फीसदी बढ़कर 1838.99 रुपए, कोटक गोल्ड ईटीएफ 0.23 फीसदी बढ़कर 1830.15 रुपए, क्वांटम गोल्ड ईटीएफ 0.23 फीसदी बढ़कर 910.05 रुपए, रिलायंस गोल्ड ईटीएफ 0.25 फीसदी बढ़कर 1765.72 रुपए, एसबीआई गोल्ड ईटीएस 0.53 फीसदी बढ़कर 1860 रुपए, यूटीआई गोल्ड ईटीएफ 1.19 फीसदी बढ़कर 1821 रुपए और रेलिगेयर गोल्ड ईटीएफ 1.07 फीसदी घटकर 1855 रुपए पर बंद हुआ। जब सब एक निश्चित शुद्धता के सोने पर आधारित हैं तो एक ही दिन में अलग-अलग बढ़ना या घटना क्यों?लाभ का अनुपात गोल्डन क्या है?

पहली बात कि हर म्यूचुअल फंड के गोल्ड ईटीएफ का खर्च अनुपात एक फीसदी के आसपास होता है, लेकिन सबके खर्च अनुपात में अंतर होता है। दूसरी बात, किसी दिन खास गोल्ड ईटीएफ के चाहनेवाले ज्यादा हैं तो उसके दाम औरों से ज्यादा होते हैं। इसे हम यूटीआई के गोल्ड ईटीएफ में देख सकते हैं जो दूसरों से ज्यादा बढ़ा है। तीसरी बात, गोल्ड ईटीएफ के भाव अंतरराष्ट्रीय एक्सचेंजों जैसे, लंदन मेटल एक्सचेंज में सोने के फ्यूचर सौदों के दाम से संबद्ध होते हैं, इसलिए उनमें देश के हाजिर बाजार में सोने के भाव से अंतर होता है। और चौथी बात, हर गोल्ड ईटीएफ अपनी कुल आस्तियों का तकरीबन 10 फीसदी हिस्सा कैश के रूप में रखता है जो सबके लिए अलग-अलग हो सकता है।

'2022 में सोने में रोलर-कोस्टर राइड से ज्यादा उतार-चढ़ाव रहे'

चेन्नई (आईएएनएस)| उद्योग के विशेषज्ञों का कहना है कि वर्ष 2022 में सोने के बाजार की तुलना में रोलर-कोस्टर की सवारी में कम उतार-चढ़ाव रहे होंगे। लाभ का अनुपात गोल्डन क्या है? नवनीत दमानी, सीनियर वीपी, करेंसी एंड कमोडिटी, मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज ने कहा- 2022 के वर्ष में सर्राफा बाजार की तुलना में रोलर-कोस्टर लाभ का अनुपात गोल्डन क्या है? की सवारी में कम उतार-चढ़ाव थे। सोना और चांदी दोनों धातुओं ने बाजार सहभागियों को बढ़त पर बनाए रखा।

दमानी के अनुसार, कॉमेक्स गोल्ड ने लगभग 1,935 डॉलर का उच्च और लगभग 1,630 डॉलर का निचला स्तर बनाया, जबकि चांदी ने लगभग 25 डॉलर का उच्च और लगभग 18 डॉलर का निचला स्तर बनाया। कुछ कारक हैं जो बाजार में अस्थिरता को ट्रिगर करते हैं जैसे, डॉलर इंडेक्स, प्रमुख केंद्रीय बैंकों से आक्रामक मौद्रिक नीति रुख, मुद्रास्फीति की बढ़ती चिंता, भू-राजनीतिक तनाव, जिसके कारण यह अस्थिरता हुई।

सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर अमित साध ने इन्हें माना जिम्मेदार, कहा- मुझे भी आया था आत्महत्या का ख्याल

सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर अमित साध ने इन्हें माना जिम्मेदार, कहा- मुझे भी आया था आत्महत्या का ख्याल

सुशांत सिंह राजपूत के निधन को भले ही 2 साल से ज्यादा का समय हो गया है, लेकिन आज भी एक्टर्स उन्हें भूल नहीं पाए हैं। उनके साथ काम कर चुके एक्टर्स भी उनके साथ की यादों को अपने दिल में बिठाए हुए हैं। अब उनके साथ काम कर चुके अमित साध ने एक्टर को लेकर बात की है। उन्होंने चेतन भगत के पॉडकास्ट में बताया कि जब उन्हें सुशांत के निधन की बात पता चली थी तो वह लाभ का अनुपात गोल्डन क्या है? काफी हैरान हो गए थे। इतना ही नहीं उनके मन में इंडस्ट्री छोड़ने तक की बात आ गई थी। अमित ने कहा, 'मैं जानता था कि वह कैसे इंसान थे। जब कोई आत्महत्या करता है तो इसका मतलब उसकी लाभ का अनुपात गोल्डन क्या है? जिंदगी काफी अंधेरे में है। जब ऐसा होता है उसमें उस शख्स की गलती नहीं होती है बल्कि सोसाइटी की गलती होती है। जो उस शख्स के आस-पास लोग रहते हैं उनकी गलती होती है क्योंकि वो शख्स इतना कमजोर हो जाता है कि फिर वह किसी और चीज के बारे में नहीं सोच पाता। मुझे भी ऐसा पहले लगा था।'

'2022 में सोने में रोलर-कोस्टर राइड से ज्यादा उतार-चढ़ाव रहे'

चेन्नई (आईएएनएस)| उद्योग के विशेषज्ञों का कहना है कि वर्ष 2022 में सोने के बाजार की तुलना में रोलर-कोस्टर की सवारी में कम उतार-चढ़ाव रहे होंगे। नवनीत दमानी, सीनियर वीपी, करेंसी एंड कमोडिटी, मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज ने कहा- 2022 के वर्ष में सर्राफा बाजार की तुलना में रोलर-कोस्टर की सवारी में कम उतार-चढ़ाव थे। सोना और चांदी दोनों धातुओं ने बाजार सहभागियों को बढ़त पर बनाए रखा।

दमानी के अनुसार, कॉमेक्स गोल्ड ने लगभग 1,935 डॉलर का उच्च और लगभग 1,630 डॉलर का निचला स्तर बनाया, जबकि चांदी ने लगभग 25 डॉलर का उच्च और लगभग 18 डॉलर का निचला स्तर बनाया। कुछ कारक हैं जो बाजार में अस्थिरता को ट्रिगर करते हैं जैसे, डॉलर इंडेक्स, प्रमुख केंद्रीय बैंकों से आक्रामक मौद्रिक नीति रुख, मुद्रास्फीति की लाभ का अनुपात गोल्डन क्या है? बढ़ती चिंता, भू-राजनीतिक तनाव, जिसके कारण यह अस्थिरता हुई।

रेटिंग: 4.83
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 321