Image Credit: Shutterstock

XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें

To provide the best experiences, we use technologies like cookies to store and/or access device information. Consenting to these technologies will allow us to process data such as browsing behavior or unique IDs on this site. Not consenting or withdrawing consent, may adversely affect certain features and functions.

The technical storage or access is strictly necessary for the legitimate purpose of enabling the use of a specific service explicitly requested by the subscriber or user, or for the sole purpose of carrying out the transmission of a communication over an electronic communications network.

The technical storage or access is necessary for the legitimate purpose of storing preferences that are not requested by the subscriber or user.

The technical storage or access that is used exclusively for statistical purposes. The technical storage or access that is used exclusively for anonymous statistical purposes. Without a subpoena, voluntary compliance on the part of your Internet Service Provider, or additional records from a third party, information stored or retrieved for this purpose alone cannot usually be used to identify you.

The technical storage or access is required to create user profiles to send advertising, or to track the user on a website or across several websites for similar marketing purposes.

Forex Trading Kya Hai: क्या है फॉरेक्स ट्रेडिंग, जानें यहां कैसे कमा सकते हैं पैसे

What is Forex Trading: फॉरेक्स करंसी ट्रेडिंग के ग्लोबल मार्केट के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म है। यूरो को डॉलर्स से एक्सचेंज करना हो डॉलर को रुपये से, यह सब फॉरेक्स यानी फॉरेन एक्सचेंज मार्केट का ही हिस्सा है। आज इंटरनेट की मदद से आप भी इसे घर बैठे कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं। बस आपको इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक कंप्यूटर चाहिए और एक फॉरेक्स ब्रोकर के साथ ट्रेडिंग अकाउंट।

KA

हाइलाइट्स

  • फॉरेक्स करंसी ट्रेडिंग के ग्लोबल मार्केट के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म है
  • 5.3 ट्रिलियन डॉलर के दैनिक लेनदेन के साथ है दुनिया का सबसे बड़ा फाइनैंशल मार्केट
  • फॉरेक्स मार्केट में आप भी पैसे कमा सकते हैं, उसके लिए बस एक ट्रेडिंग अकाउंट चाहिए

आप भी कर सकते हैं फॉरेक्स ट्रेडिंग
फॉरेक्स ट्रेडिंग कोई रॉकेट साइंस नहीं है और आज इंटरनेट की मदद से आप भी इसे घर बैठे कर सकते हैं। बिल्कुल बड़े-बड़े बैंक और फाइनैंशल ऑर्गनाइजेशन्स की तरह। बस आपको इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक कंप्यूटर चाहिए और एक फॉरेक्स ब्रोकर के साथ ट्रेडिंग अकाउंट।

फॉरेक्स ट्रेडिंग ऐसे करती है काम
फॉरेक्स मार्केट में एक करंसी को दूसरी करंसी से बदला जाता है। ट्रेडिंग में सबसे ज्यादा जरूरी बात होती है एक्सचेंज रेट। मतलब एक करंसी को दूसरी करंसी से एक्सचेंज करने की दर क्या होगी। आपने आमतौर पर देखा होगा कि रुपये की कीमत डॉलर की अपेक्षा इतनी है या डॉलर की कीमत यूरो की अपेक्षा इतनी है। आसान भाषा में कहें तो इस वक्त 16 नवंबर को रुपये की दर डॉलर की अपेक्षा 71.84 है यानी एक डॉलर खरीदने के लिए आपको 71.84 रुपये चुकाने होंगे।

D

फॉरेक्स मार्केट से कैसे कमा सकते हैं पैसे
यहां आपको उदाहरण देते हैं जिसके जरिए आप फॉरेक्स मार्केट से पैसे कमा सकते हैं या ट्रेडिंग कर सकते हैं। आप डॉलर (USD) के बदले 1,000 यूरोज़ (EUR) लेने का मन बनाते हैं। मान लीजिए कि जिस वक्त आपने यूरो खरीदे उस वक्त डॉलर/यूरो का एक्सचेंज रेट 1.45 था यानी आपको 1,000 यूरो खरीदने के लिए 1,450 डॉलर देने पड़े। कुछ समय बाद एक्सचेंज रेट में थोड़ा परिवर्तन हुआ और यह बढ़कर 1.55 हो गया। अब जब आप 1,000 यूरो बेचेंगे तो आपको 1,550 डॉलर मिलेंगे। इस तरह आपको कुल 100 डॉलर का फायदा हुआ। इसी तरह अगर यूरो बेचने के वक्त एक्सचेंज रेट 1.35 रहा, तो आपको उन्हीं 1000 यूरो के बदले 1,350 डॉलर मिलेंगे यानी आपको 100 डॉलर का नुकसान हुआ।

फॉरेक्स मार्केट में बड़े-बड़े प्लेयर्स, एजेंट्स, फाइनैंशल कंपनियां इसी तरह पैसे बनाती हैं।

एल्गो ट्रेडिंग क्या है और ये कैसे काम करता है? | अल्गो ट्रेडिंग कैसे करे?

algo trading kya hai

दोस्तों आप में से XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें बहुत से लोग ट्रेडिंग करते होंगे और ट्रेडिंग कई तरह की होती है उन्ही में से एक एल्गो ट्रेडिंग होती है पहले शेयर मार्केट में पेपर पे ट्रेडिंग होती थी डायरेक्ट शेयर को खरीदने के लिए हमें पेपर की जरुरत होती थी लेकिन फिर बाद में साल 2000 से भारत में ऑनलाइन सिस्टिम आ गयी और अब हम घर बैठे अपने मोबाइल या लैपटॉप से ट्रेडिंग करते है, लेकिन क्या आपको इसके बारे में पूरी जानकारी है कि एल्गो ट्रेडिंग क्या होती है और एल्गो ट्रेडिंग करने के फायदे क्या है अगर नही, तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको एल्गो ट्रेडिंग से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन देते हैं.

algo trading kya hai

Image Credit: Shutterstock

Table of Contents

एल्गो ट्रेडिंग क्या होती है (What is algo Trading in Hindi)

हमारे भारत देश में शेयर मार्केट का एक लिमिटेड समय है और हर कोई शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने के लिए इतना समय नहीं दे सकता है और जब ऐसे कंडीशन मे अगर आपको शेयर बाजार को बिना समय दिए ट्रेडिंग करना हो और ऐसे मे अगर कोई ऐसा प्लेटफार्म मिल जाये जिसमे बिना आपकी ट्रेडिंग के शेयर्स को आटोमेटिक (स्वचालित) रूप से ख़रीदे और बेचे तो ये कैसा रहेगा, तो ऐसी कंडीशन के लिए ही आटोमेटिक ट्रेडिंग लाई गयी है तो रोबोटिक रूप से आपके शेयर को ख़रीदे और बेचने को ही Algo Trading कहा जाता है और एल्गो ट्रेडिंग को ही आटोमेटिक ट्रेडिंग कहते है.

ये ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जो रूल्स बेस पर होता है जिसमे पहले से ही कोडिंग की मदद से सारी चीज़े सेट की जाती है और फिर उसके माध्यम से ही एल्गो ट्रेडिंग काम करता है इसमें हमें पहले से ही हमारे रूल्स, इंस्ट्रक्शन्स या फिर लॉजिक को सेट करना होता है और फिर इसी लॉजिक पर हमारा लैपटॉप एल्गो ट्रेडिंग में काम करता है. ये रूल्स, और इंस्ट्रक्शन्स आप अपने हिसाब से सेट कर सकते है.

Example- माना आपने एल्गो ट्रेडिंग को इंस्ट्रक्शन्स दिया कि 20 days moving एवरेज को क्रॉस करने पर हमारे 100 शेयर buy हो जाये या फिर rsi 30 के नीचे जाने से 100 शेयर को सेल किया जाये और 5 % का प्रॉफिट होने पर हमारा ट्रेड exit हो जाये.

अगर आप कुछ इस तरह से अपना इंस्ट्रक्शन्स एल्गो ट्रेडिंग को देते है तो वो आपके इस इंस्ट्रक्शन्स पर काम करता है और इससे आपका समय भी बचता XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें है और आपको अच्छा मुनाफा भी होता है, एल्गो ट्रेडिंग की ग्रोथ में भारत में ज्यादातर ट्रेडर एल्गो ट्रेडिंग का ही यूज करके ही ट्रेडिंग करते है एल्गो ट्रेडिंग बहुत ही सुरक्षित और मुनाफा देने वाली ट्रेडिंग है.

एल्गो ट्रेडिंग कैसे करे?

एल्गो ट्रेडिंग करने के लिए सबसे पहले आपके पास किसी भी ब्रोकर का एल्गो ट्रेडिंग API होना चाहिए और उसी ब्रोकर के साथ आपका डिमैट अकाउंट होना भी जरूरी होता है. ये कुछ ब्रोकर्स है जो एल्गो ट्रेडिंग API के लिए कुछ न कुछ चार्जेज भी लेते है भारत के ये बड़े ब्रोकर्स आपको एल्गो ट्रेडिंग API प्रोवाइड करते है.

जैसे- angel broking, zerodha, upstox इत्यादि, ये ब्रोकर्स आपको एल्गो ट्रेडिंग API प्रोवाइड करते है लेकिन इनके कुछ चार्जेज भी होते है जैसे कि

zerodha – 2000 महीना

upstox – 1000 महीना

और कुछ ऐसे ब्रोकर भी होते है जो आपको एल्गो ट्रेडिंग API फ्री में प्रोवाइड करते है जिसमे angel broking है जो आपको फ्री में अल्गो ट्रेडिंग API प्रोवाइड करता है और ये ब्रोकर भारत का सबसे पुराना और अच्छा ब्रोकर है.

एल्गो ट्रेडिंग करने के फायदे क्या है?

एल्गो ट्रेडिंग करने के कुछ फायदे निम्नलिखित है-

  • एल्गो ट्रेडिंग को आप अपना काम करके भी शेयर बाजार में आटोमेटिक ट्रेडिंग कर सकते है जिसमे आपके समय की बचत होती है.
  • इसमें आप एक साथ अनलिमिटेड शेयर्स को खरीद और बेच सकते है।
  • इसमें आप एक साथ शेयर मार्केट के जितने भी स्टॉक्स को चाहे ट्रैक कर सकते है.
  • इसमें हमे ट्रेडिंग करने के लिए एनालिसिस करने की कोई जरुरत नहीं होती है क्युकी एल्गो ट्रेडिंग खुद से ही 50 दिनों का डेटा एनालिसिस करके ट्रडिंग करता है.
  • नार्मल कंडीशन में लोग शेयर मार्केट के उतरते-चढ़ते भाव को देखकर इमोशनल होकर घबरा जाते है लेकिन एल्गो ट्रेडिंग हमेशा बिना इमोशन के ट्रेडिंग करता है.

एल्गो ट्रेडिंग करने के नुकसान क्या है?

एल्गो ट्रेडिंग करने के कुछ नुकसान भी है-

  • एल्गो ट्रेडिंग एक नयी और बड़ी चीज है क्योंकि आज भी ज्यादातर ट्रेडर समय कम होने के कारण सही ढंग से ट्रेड नहीं कर पाते हैं यहां पर सिर्फ 100 में से केवल 10% ट्रेडर्स ही सक्सेस हो पाते हैं और अच्छा पैसा कमा पाते हैं.
  • एल्गो ट्रेडिंग एक कम्प्यूटर आधारित ट्रेडिंग है इसमें गलतियों को इग्नोर नहीं किया जा सकता है क्योंकि इसमें ज्यादातर गलतियां गणतीय आंकलन से लेकर कैलकुलेशन तक कही भी हो सकती हैं इसलिए यह शुरुआत में सभी के लिए allow नहीं है.
  • इसके allow करने के साथ ही इसे इस्तेमाल करने की पूरी जानकारी भी आपके पास होनी चाहिए जिससे ट्रेडर्स इसमें अच्छे से ट्रेड कर सकें. अभी तक इसमें केवल एक्सपर्ट ट्रेडर ही ट्रेड कर सकते थे लेकिन रिटेल ट्रेडर को इसकी अनुमति नहीं दी थी लेकिन अब इसे सभी के लिए ओपन कर दिया गया है आप भी एल्गो ट्रेडिंग करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं.

इसे भी पढ़े?

आज आपने क्या सीखा?

हमे उम्मीद है कि हमारा ये (algo trading kya hai) आर्टिकल आपको काफी पसन्द आया होगा और आपके लिए काफी यूजफुल भी होगा क्युकी इसमे हमने आपको एल्गो ट्रेडिंग से रिलेटेड पूरी जानकारी दी है.

हमारी ये (algo trading kya hai) जानकारी कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Best forex broker in india Hindi |भारत में सबसे अच्छा फॉरेक्स ब्रोकर प्लेटफॉर्म

भारत में केवल चार INR based XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें currency pairs उपलब्ध हैं – USD/INR, EUR/IND, GBP/INR और JPY/INR। आप EUR-USD, GBP-USD और USD-JPY पर cross currency F&O contracts का भी trading कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि cross currencies में संबंधित INR pair होते हैं।

Best forex broker in india hindi

लेकिन, यदि आप AUD (ऑस्ट्रेलियाई डॉलर), CHF (स्विस फ़्रैंक), कैनेडियन डॉलर (CAD), या अन्य currency pairs जैसे अन्य FX में trading करना चाहते हैं, तो आपको एक international forex broker के साथ एक forex account खोलने की आवश्यकता है।

विदेशी forex broker भारतीय निवासियों को खाता खोलने और विभिन्न Currencies, Stocks, Indices, Commodities और यहां तक ​​कि top cryptocurrencies में trading करने की अनुमति देते हैं।

forex उच्च तरलता और कम मार्जिन आवश्यकताओं वाला सबसे बड़ा financial market है। विदेशी मुद्रा में व्यापार करने के लिए आपको एक best forex broker accounts in india की आवश्यकता होती है।

लेकिन, इससे पहले कि आप एक विशिष्ट forex broker चुनें, आपको भारत में एक सबसे अच्छा विदेशी मुद्रा दलाल (Best forex broker in india) के चयन के लिए कारकों को जानना होगा। आप उन कारकों की जांच कर सकते हैं जिन्हें मैंने section के बाद listed किया है –

यहाँ भारत में सबसे अच्छा फॉरेक्स ब्रोकर प्लेटफॉर्म की हमारी सूची है जिन्हें आप चेक कर सकते हैं-

OctaFx – भारतीय दर्शकों के लिए सर्वश्रेष्ठ

Olymp Trade – सबसे भरोसेमंद में से एक

FXTM – फास्ट ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के लिए सर्वश्रेष्ठ

eToro – कई व्यापारिक संपत्ति विकल्पों के लिए बढ़िया

XM Forex – $100,000 वर्चुअल बैलेंस के साथ डेमो खाता

iForex – एक-क्लिक डील निष्पादन के लिए बढ़िया

Alpari International – न्यूनतम न्यूनतम जमा राशि के लिए बढ़िया

XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें

 XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें

संक्षेप में, मार्केट वॉच दुनिया भर से निवेश की दुनिया में आपकी खिड़की है। जानें कि एमटी 4 के माध्यम से अपना पहला व्यापार कैसे करें और विदेशी मुद्रा, वस्तुओं, सूचकांकों, इक्विटी सीएफडी और ईटीएफ में से चुनें।

यदि आपको वह उपकरण नहीं मिल रहा है जिसकी आप तलाश कर रहे हैं, तो बस किसी भी उपकरण पर राइट-क्लिक करें और 'सभी दिखाएं' चुनें।

MT4 . पर एक विशिष्ट उपकरण कैसे खोजें?

XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें

जैसा कि आप देख सकते हैं, सभी उपलब्ध उपकरणों का अपना प्रतीक होता है। यदि आप सुनिश्चित नहीं हैं कि प्रत्येक बाज़ार के प्रतीक का क्या अर्थ है, तो अधिक जानकारी के लिए बस अपना माउस उस पर मँडराएँ।


प्रत्येक उपकरण के विनिर्देश की जांच कैसे करें

यदि आप और अधिक विवरण की तलाश में हैं, जैसे कि अनुबंध का आकार या व्यापार के घंटे, किसी भी उपकरण पर राइट-क्लिक करें और 'विनिर्देश' XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें चुनें।

अनुबंध विनिर्देश विंडो दिखाई देगी।


ओपनिंग चार्ट

इंस्ट्रूमेंट का चार्ट देखने के लिए मार्केट वॉच सबसे आसान तरीका है। बस इसे चार्ट विंडो में खींचें और छोड़ें।

मार्केट वॉच भी आपके ट्रेडों को रखने का सबसे तेज़ तरीका है। एक बार XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें जब आपको वह बाज़ार मिल जाए जिसमें आप अपनी पोजीशन खोलना चाहते हैं, तो बाज़ार के नाम पर डबल-क्लिक करें और एक नई ऑर्डर विंडो दिखाई देगी।

XM MT4 में मार्केट वॉच का उपयोग कैसे करें

मार्केट वॉच विंडो के कुछ अतिरिक्त कार्यों का उल्लेख करना उचित है, जैसे कि बाजार की गहराई, टिक चार्ट, अपने पसंदीदा बाजारों को जोड़ना, समूहबद्ध सेट और बहुत कुछ, ये सभी मार्केट वॉच के संदर्भ मेनू में उपलब्ध हैं।

जैसा कि आप देख सकते हैं, मार्केट वॉच विंडो आपके द्वारा MT4 का उपयोग करने के तरीके का अभिन्न अंग है।

रेटिंग: 4.95
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 785