Zomato ने अपने कर्मचारियों को एक-एक रुपये में बांटे 4.66 करोड़ शेयर, जानिए क्या है पूरा मामला

Zomato Stock Price: कंपनी के 613 करोड़ स्टॉक की बिक्री का लॉक-इन पीरियड 23 जुलाई को समाप्त हो गया. इस वजह से कंपनी के शेयरों में बिकवाली देखने को मिल रहा था. एनालिस्ट्स ने आगाह किया है कि कंपनी के स्टॉक में इस हफ्ते बिकवाली का दबाव देखने को मिल सकता है.

Zomato

एक्सपर्ट्स का अनुमान है कंपनी के कुछ बड़े प्री-आईपीओ इंवेस्टर्स ने अपने शेयरों की बिक्री की है. इस वजह से कंपनी के स्टॉक में सोमवार और मंगलवार को जबरदस्त टूट देखने को मिली थी. सोमवार को दिन के कारोबार के दौरान कंपनी के शेयर में 14 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली थी.

मार्केट रेग्युलेटर सेबी के नियमों के मुताबिक, किसी कंपनी के आईपीओ से पहले अगर किसी व्यक्ति के ऑप्शन बिकवाल पास कंपनी के शेयर रहते हैं तो वह लिस्टिंग के एक साल तक उन शेयरों को ऑप्शन बिकवाल नहीं बेच सकता है.

ऑप्शन बिकवाल

Top Growth Stocks

Best Bluechip Stocks

Stocks with Regular Payout

Equities

Only Sellers

Set refresh rate to: Refresh Now

Expiry

Expiry

Option Type

Strike Price

Today's Trend

Open Int. (Contracts)

Open Int. (Contracts)

Technical Chart

1 Month

52 Weeks

More details on

More details on

Constituents

Other Future Contracts

Other Options Contracts

Sensex rises 180 points, Nifty above 18,650; NCC gains 3%, Yes Bank 2%; Rupee slips 4 paise to 82.64 against US dollar in early trade.Sensex gains 180 points, Nifty above 18,650; NCC rises 3%

U.S. stocks rose on Tuesday after a unexpectedly small consumer price increase buoyed optimism that the Federal Reserve could soon dial back its inflation-taming interest rate hikes, but concerns remained the central back could stay aggressive.

India VIX was down by 3.28% to 12.88 levels from 13.31. Volatility dropped to its multi-month low and has been hovering at lower levels from the last two months.Option data suggests a trading range in between 18,300 and 19,000 zones, while an immediate trading range in between 18,400 and 18,750 zones.

Among Sensex stocks, IndusInd Bank, Bajaj Finance, TCS, HCL Tech, M&M and Infosys were the top gainers, rising around 1.5-2%

Closing Bell: Sensex snaps 2-day losing streak, jumps 403 points; Nifty tops 18,600; Dhanlaxmi, Central Bank zoom 18% each.Sensex snaps 2-day losing streak, gains 400 pts; Nifty tops 18,600; PSU Banks rally

"Based on how macro things play out, we expect Nifty to trade in a range from 17K-20K. In our base case we value Nifty at 21.5x near +1SD to its long-term average with a target of 19.5K," BofA analyst Amish Shah said in a report.

Select large ऑप्शन बिकवाल cap stocks in some sectors have gained attention in the markets once again. Some of them have witnessed a spike after a long period of consolidation. ET screener powered by Refinitiv’s Stock Report Plus lists down quality stocks with high upside potential over the next 12 months, having an average recommendation rating of “buy” or "strong buy". The screener applies different algorithms for all BSE and NSE stocks. This predefined screener is only available to ET Prime users.

“The two macroeconomic data which came yesterday have significant implications for the market. The CPI inflation for November at 5.88 % is below the RBI’s upper tolerance limit. This is good news. But the bad news is that the Index of Industrial Production (IIP) shows a contraction of 4 % in October,” V K Vijayakumar, Chief Investment Strategist at Geojit Financial Services said.

Sensex rises over 100 pts, Nifty above 18,500; JP Associates gains 5%, Yes Bank 4%; Most active stocks: YES Bank, PNB, Voda Idea.Sensex rises over 100 points, Nifty above 18,500; JP Associates gains 5%

U.S. stock indexes rallied to kick off the trading week on Monday, lifted in part by gains in Microsoft and Pfizer, as investors girded for inflation data on Tuesday and a policy announcement from the Federal Reserve later in the week.

1-1 रुपये में 4.66 करोड़ शेयर बांटेगी Zomato, खबर से बदल गई स्टॉक की चाल

मार्केट एक्सपर्ट ने पहले ही इस बात की आशंका जताई थी कि एक साल का लॉकइन पीरियड (Lock-in Period) खत्म होने के बाद Zomato के शेयरों में तेज बिकवाली दिखेगी. हाल ही में ऑप्शन बिकवाल कैश-स्ट्रैप्ड क्विक कॉमर्स कंपनी Blinkit का अधिग्रहण करने के बाद से यब बिकवाली और बढ़ गई.

Zomato के शेयरों में लौटी तेजी

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 27 जुलाई 2022,
  • (अपडेटेड 27 जुलाई 2022, 4:07 PM IST)
  • बीते दो दिनों में 21 फीसदी से ज्यादा टूटे थे शेयर
  • बुधवार को शेयरों में 5 फीसदी से अधिक की तेजी आई

फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato के शेयरों (Share) आई बीते दिनों से जारी सुनामी ने निवेशकों की पसीने छुड़ा दिए, तो कंपनी बोर्ड को भी सोचने पर मजबूर कर दिया. हाल ये है कि बीते दो दिनों सोमवार और मंगलवार को ही शेयर 21 फीसदी टूट चुके हैं. ऐसे में बोर्ड ने आनन-फानन में ऐसा कदम उठाया कि Stocks में गिरावट पर झट से ब्रेक लग गया.

4.66 करोड़ शेयर ऑप्शन बिकवाल बांटेगी जोमैटो
दरअसल, शेयरों में गिरावट को थामने के लिए कंपनी ने एंप्लॉयी स्टॉक ऑप्शन प्लान (ESOP) चुना है. इसके तहत Zomato की नॉमिनेशन एंड रेमुनरेशन कमिटी ने 4,65,51,600 ऑप्शन बिकवाल इक्विटी शेयरों को स्टॉक ऑप्शन के तहत कर्मचारियों को देने के फैसले को मुहर लगा दी. कंपनी अब अपने कर्मचारियों को 1-1 रुपये में 4.66 करोड़ शेयर बांटेगी. कंपनियां घाटे में चलने के बावजूद अपने टॉप एग्जीक्यूटिव्स को ESOP बांटती हैं.

193 करोड़ होती है शेयरों की कीमत
Zomato की ओर से मंगलवार को शेयर बाजारों (Stock Markets) को दी गई जानकारी में बताया गया कि बोर्ड ने इस फैसले को मंजूरी दे दी है. कर्मचारियों में बांटे ऑप्शन बिकवाल जाने वाले जोमैटो के शेयरों को मौजूदा रेट के हिसाब से देखें तो इनकी कीमत 193 करोड़ रुपये होती है. बोर्ड के ESOP प्लान को मंजूरी देने की खबर का बड़ा असर भी दिखाई दिया और बुधवार को दोपहर 3 बजे तक कंपनी के शेयर 5 फीसदी से ज्यादा उछलकर 43.85 रुपये पर पहुंच गए.

बिकवाली की पहले से थी आशंका
जोमैटो के शेयरों में गिरावट पर नजर डालें तो सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को यह 14 फीसदी तक टूट गया था, जबकि मंगलवार को इसमें 12 फीसदी से ज्यादा की गिरावट ऑप्शन बिकवाल आई थी. इस गिरावट के चलते कंपनी के शेयरों की कीमत 41 रुपये पर पहुंच गई थी. विशेषज्ञों ने पहले ही आशंका जताई थी कि एक साल का लॉकइन पीरियड (Lock-in Period) खत्म होने के बाद शेयरों में तेज बिकवाली देखने को मिलेगी और हुआ भी ऐसा ही.

Stock Market : चार सत्र बाद आज बिकवाली के मूड में बाजार, सावधानी से पैसे लगाएं निवेशक वरना हो सकता है नुकसान

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 545 अंक चढ़कर बंद हुआ था.

भारतीय शेयर बाजार पिछले चार सत्रों से ताबड़तोड़ बढ़त हासिल कर रहा है, लेकिन आज इस पर ब्रेक लगने की आशंका है. ग्‍लोबल मा . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : August 02, 2022, 07:07 IST

हाइलाइट्स

अमेरिकी शेयर बाजार के लिए जुलाई का महीना पिछले 22 सालों में सबसे बेहतर रहा.
विदेशी संस्‍थागत निवेशकों ने पिछले सत्र में बाजार में 2,320.61 करोड़ रुपये लगाए थे.
इसी दौरान घरेलू संस्‍थागत निवेशकों ने 822.23 करोड़ ऑप्शन बिकवाल रुपये के शेयर बेच डाले.

नई दिल्‍ली. भारतीय शेयर बाजार (Stock Market) ने पिछले सप्‍ताह जबरदस्‍त बढ़त बनाई और इस सप्‍ताह की शुरुआत भी बड़ी तेजी के साथ हुई, लेकिन आज ऑप्शन बिकवाल मंगलवार को बाजार दबाव में दिख रहा है.

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 545 अंकों की बढ़त के साथ 58,115 पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 182 अंक चढ़कर 17,340 पर पहुंच गया था. एक्‍सपर्ट का अनुमान है कि आज ग्‍लोबल मार्केट में गिरावट दिख रही, जिसका असर घरेलू निवेशकों के सेंटिमेंट पर भी दिखेगा और बाजार में बिकवाली हावी हो सकती है. ऐसा होता है तो चार सत्रों के बाद बाजार को गिरावट का मुंह देखना पड़ेगा.

अमेरिका ने गंवाई 22 साल की बढ़त
अमेरिकी शेयर बाजार के लिए जुलाई का महीना पिछले 22 सालों में सबसे बेहतर रहा और साल 2000 के बाद सबसे अच्‍छी बढ़त दिखी थी. लेकिन, अगस्‍त महीने के पहले ही दिन पिछले कारोबारी सत्र में अमेरिकी बाजार ने यह बढ़त गंवा दी और सभी प्रमुख एक्‍सचेंज नुकसान पर बंद हुए. S&P 500 0.28% टूटा तो Nasdaq 0.18% गिरकर बंद हुआ था. इसी तरह, Dow Jones पर भी 0.14% की गिरावट आई.

यूरोपीय बाजार भी धराशायी
अमेरिका की तर्ज पर यूरोप के भी बाजारों में पिछले कारोबारी सत्र के दोरान गिरावट दिखी और सभी प्रमुख शेयर बाजार नुकान पर बंद हुए. यूरोप के बड़े बाजारों में शामिल जर्मनी का स्‍टॉक एक्‍सचेंज पिछले सत्र में 0.03 फीसदी के नुकसान पर बंद हुआ था, जबकि फ्रांस का बाजार 0.18 फीसदी के नुकसान पर बंद हुआ. इसी तरह, लंदन स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर भी 0.13 फीसदी की गिरावट आई थी.ऑप्शन बिकवाल

एशियाई बाजारों में भी गिरावट
एशिया के ज्‍यादातर शेयर बाजार आज सुबह लाल निशान पर खुले हैं. सिंगापुर स्‍टॉक एक्‍सचेंज 0.29 फीसदी के नुकसान पर कारोबार कर रहा, जबकि जापान ऑप्शन बिकवाल का निक्‍केई 1.22 फीसदी की गिरावट पर है. इसके अलावा दक्षिण कोरिया का कॉस्‍पी शेयर बाजार 0.31 फीसदी और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.01 फीसदी के नुकसान पर कारोबार कर रहा है.

विदेशी निवेशकों की बड़ी खरीदारी
भारतीय शेयर बाजार में दोबारा दिख रही तेजी का सबसे बड़ा कारण विदेशी निवेशकों की लगातार खरीदारी है. पिछले सत्र में भी विदेशी संस्‍थागत निवेशकों ने बाजार में 2,320.61 करोड़ रुपये लगाए थे. इसी दौरान घरेलू संस्‍थागत निवेशकों ने 822.23 करोड़ रुपये के शेयर बेच डाले.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

रेटिंग: 4.67
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 813